Ticker

6/recent/ticker-posts

Corona Stories

1. 71% जल चुकी महिला का कोरोना निदान 


गुजरात के अहमदाबाद म्युनिसिपालिटी संचालित SVP Hospital का एक केस। 

इस केस में 71% जल चुकी महिला को कोरोना हुआ। जमालपुर की रहने वाली 23 वर्षीय मिस्बाबेन की बात है। 
विश्व में ऐसा प्रथम केस है जिसमे इतनी ज्यादा जल चुकी महिला का कोरोना का इलाज किया गया। 

इस 23 वर्षीय मिस्बाबेन घरमे ही अकस्मात की वजह से जल चुकी थी जिसको नजदीकी हस्पताल में ले जाया गया लेकिन वहा सारवार करने से मना किया बादमे L.G. hospital ले जाया गया वहाँपे प्राथमिक सारवार में कोरोना पॉजिटिव पाया गया। तत्कालीन SVP Hospital में भर्ती करके सारवार को शरू किया गया। 

तीन सप्ताह की बड़ी महेनत के बाद कोरोना हराया गया उसके बाद मिस्बा के समरूप स्किन को बेलगाम से लाया गया। इसमें परिवार वालो ने 36 घंटो की सतत मुसाफरी में Cold Chain को maintain किया। 





2. कोरोना की लड़ाई में पुलिस मानवता चूक गई 


गुजरात के अंबाजी की यह घटना हैं।  राधाबेन पीराजी रबारी नामकी महिला को रातमे प्रसव पीड़ा होने से उसको अंबाजी जनरल हस्पताल में ले जाया गया वहा प्राथमिक सारवार के साथ पालनपुर ले जाने का सुझाव दिया। 

पालनपुर जाते समय रास्ते में पुलिस ने उस गर्भवती महिला ने मास्क नहीं पहना था इसी लिए गाड़ी को रोककर थाने ले जाया गया। पुलिस थाने  में बिनजरूरी प्रश्नोत्तरी करके प्रसूति का महत्व पूर्ण समय को बर्बाद किया गया। 

छोड़ने के बाद तुरंत पालनपुर सिविल हस्पताल में पोहचे लेकिन स्थिति बहुत गंभीर होने की वजह से पाटण-धारापुर मेडिकल कॉलेज हस्पताल में भेजा गया वह बच्चे को मृत पाया गया और उसको सिजेरियन से बहार निकालना पड़ा। 

Ambaji child death police issue
FIR at ambaji police station


परिवार के लोग मरे बच्चे के साथ पुलिस थाने गए जहा रीपोर्ट लिखवाई लेकिन यहां पर पुलिस ने समाधान करने का प्रयास किया। 

1. पुलिस को परिस्थिति देखकर कायदे को वास्तविक जीवन के साथ जोड़कर कार्यवाही करनी चाहिए। 
2. गर्भवती महिला को इतनी हस्पतालो में घूमना पड़ता है यह शर्म जनक बात है। हस्पताल में उत्तम सुविधा उपलब्ध करना प्रशासन की जवाबदारी है। 

   





Post a Comment

0 Comments